30.1 C
Ranchi
Thursday, June 13, 2024
Advertisement
HomeLocal NewsGumlaवर , दुल्हा नाबालिक उम्र 16 वर्ष , जबकि वधू , दुल्हन...

वर , दुल्हा नाबालिक उम्र 16 वर्ष , जबकि वधू , दुल्हन उम्र 18 वर्ष , लगा बाल विवाह का आरोप ,

दिल के अरमां आंसुओं में बह गए, मोहब्बत की दुकान में प्रेमी + प्रेमिका मिले और चट मंगनी पटशादी

सड़क पर निकाले बारात को पुलिस और प्रशासन ने किया स्थगित।

अज्ञात ग्रामीण ने पुलिस, प्रशासन और बाल कल्याण विभाग ( सी , डब्ल्यू . सी . ) दी सूचना, लगाया बाल – विवाह का आरोप।

गुमला – गुमला जिला अंतर्गत स्थित भरनो थाना के कमलपुर निवासी 16 वर्षीय नाबालिग पंचू उरांव एवं रांची जिला अंतर्गत बेड़ो थाना स्थित पैरो महुआ टोली ग्राम निवासी 18 वर्षीय बालिक युवती सुजीता कुमारी के बीच बरसों से चल रहे प्रेम-प्रसंग ने शादी के बन्धन और सात फेरे और सात वचन, सभी सभी हुईं स्थगित ( प्रेमी से 2 वर्ष बड़ी हैं प्रेमिका ) उक्त दोनों के बीच शादी तय हो चुकी थी और दोनों क्षेत्रों के परिवार और परिजनों की सहमति के बीच तय , दिन, तारीख और मूहर्त के बावजूद उक्त शादी का बारात निकालने से मात्र चंदघंटे पूर्व, ही , उक्त गांव के किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा पुलिस, प्रशासन और बाल कल्याण विभाग ( सी . डब्लू . सी . ) को सूचना दे दी गई की नाबालिग लड़कें का बाल विवाह कराया जा रहा हैं और शादी होने जा रहा हैं

उक्त सूचना मिलते ही भरनो थाना प्रभारी अरविंद कुमार एवं भरनो सीओ के प्रतिनिधि रविन्द्र झा ने संयुक्त रूप से त्वरित कार्रवाई करते हुयें , नाबालिक किशोर पंचू उरांव के बारात निकालने से पूर्व ही उक्त दोनों पदाधिकारी उक्त घटनास्थल पर पहुंचकर , उक्त दोनों पक्षों के परिवार और परिजनों के बीच सौहार्द पूर्ण वातावरण में और पुरे गांव के ग्रामीणों और समाज के गण्यमन लोगों के समक्ष एक संयुक्त बैठकर , उन्हें और उक्त दोनों परिवार और परिजनों को जागरूक करते हुए , उन्हें बताया गया की लड़कें का उम्र 21 वर्ष और लड़की का उम्र 18 वर्ष पूर्ण होने के बाद ही सरकार द्वारा शादी करने की अनुमति प्रदान की गई है और इससे पूर्व कम उम्र में अगर जबरदस्ती शादी कराई जाती है तो , दोनों वर – वधु पक्षों के विरुद्ध , उक्त शादी को बाल विवाह के रूप में देखा जायेगा और उनके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कानूनी कार्रवाई करते हुए , उन्हें जेल की हवा भी खानी पड़ सकती हैं , उक्त जागरूकता के बाद, दोनों पक्षों ने काफी खर्च होने के बावजूद भी उक्त शादी समारोह कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया , उक्त बारात निकालने के लिए वर दुल्हा और बाराती तैयार थे

दर्जनों वाहन और दूल्हे राजा की गाड़ी फूल पत्तियों से सज कर तैयार थी पर यह क्या, पुलिस – प्रशासन के लोग पहुंचे और उक्त निकलने वाली बारात स्थगित हो गई एकाएक उत्साह और उमंग हो गई समाप्त सभी बाराती अपने अपने घर वापस लौटने के लिए उन्हें मजबूर होना पड़ा, वर वधू की अरमां आंसूओं में वह गयें, उक्त शादी को फिलहाल स्थगित कर दिया गया हैं।

न्यूज़ – गनपत लाल चौरसिया।

 

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments