30.1 C
Ranchi
Thursday, June 13, 2024
Advertisement
HomeNational28 मई को ED से मनीष रंजन का होगा सामना, आलमगीर,संजीव व...

28 मई को ED से मनीष रंजन का होगा सामना, आलमगीर,संजीव व जहांगीर के सामने होगी पूछताछ…!

रांची :  टेंडर घोटाले में सीनियर आईएएस अधिकारी व राजस्व विभाग के सचिव मनीष रंजन की बड़ी भूमिका सामने आई है. मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी मंत्री आलमगीर आलम उनके ओएसडी संजीव लाल और जहांगीर से हुई अब तक की पूछताछ में तीनों के कबूलनामे के बाद ग्रामीण विकास विभाग के सचिव रहे मनीष रंजन से ईडी आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करना चाहती है. पहले समन पर हाजिर नहीं होने के बाद ईडी ने मनीष रंजन को दूसरा समन भेजकर 28 मई को पूछताछ करने के लिए बुलाया है. सूत्र बताते हैं कि टेंडर घोटाले में मनीष रंजन की भूमिका से इंकार नहीं किया जा सकता. इसके अलावा अन्य कई अधिकारियों के नाम सामने आ सकते हैं. इसकी भनक से ऐसे अधिकारी के हाथ-पांव फूल रहे हैं. कइयों ने तो अपने मोबाइल फोन भी बदल रहे हैं. या फिर अपने नजदीकियों से बातचीत एकदम बंद कर दी है. कई प्रभावशाली लोगों की भी बड़ी भूमिका सामने आने के बाद से नेपाल हाउस में चर्चा करने से परहेज कर रहे हैं.

कोर्ट से ईडी को आलमगीर से तीन दिनों की पूछताछ की मंजूरी मिली

इधर, सोमवार को तीसरी बार भी कोर्ट ने फिर मंत्री आलमगीर से तीन दिनों की पूछताछ की मंजूरी दी है. इससे पहले उनके ओएसडी संजीव लाल और जहांगीर की भी गिरफ्तारी हो चुकी है और एजेंसी ने दोनों से कई दिनों तक पूछताछ की, जिसमें कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. संजीव लाल और जहांगीर के ठिकाने से ईडी ने 35 करोड़ रुपये से ज्यादा कैश बरामद किया था. ईडी का दावा है कि यह सारा पैसा टेंडर मैनेज करने के एवज में मिले कमीशन का है. बता दें कि आलमगीर आलम को ईडी ने पूछताछ के बाद 15 मई की देर शाम  गिरफ्तार किया था. जिसके बाद से अब तक उनसे कोर्ट की अनुमति लेकर 11 दिनों तक पूछताछ कर चुकी है. 28 मई को ईडी कार्यालय में मनीष रंजन के पहुंचने के बाद किस तरह से ईडी के अधिकारियों के समक्ष अपना बचाव करते हैं, यह देखना दिलचस्प होगा.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments