30.1 C
Ranchi
Thursday, July 18, 2024
Advertisement
Homeसना से क्यों हैं न्यूज एंकर परेशान
Array

सना से क्यों हैं न्यूज एंकर परेशान

नई दिल्ली - दो दिन पहले देश ने एक बड़े न्यूज़ चैनल ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस न्यूज़ एंकर,  सना को हमारे सामने प्रस्तुत किया , सना एक AI टूल की मदद से बनाई गई आभासी (Virtual) Anchor है , जो मानव की तरह ही समाचार पढ़ सकती है और मौजूदा मानव समाचार वाचक (News Anchor) की जगह ले सकती है , इसके साथ ही ये बहस छिड़ गई है की क्या आने वाले दिनो मे न्यूज़ एंकर  की नौकरी खतरे मे है क्या AI न्यूज़ एंकर की जगह ले पाएगा , हमारे लिए खुशी के बात ये होगी की अब हम अब सुकून से समाचार सुन पाएंगे , शोर शारबे वाले न्यूज़ अंकर से छुटकारा मिलेगा |  चलिये जानते है इनके फायदे और नुकसान 

हाल के वर्षों में, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) में प्रगति ने एआई एंकरों का विकास किया है जो मानव समाचार एंकरों को बदलने की क्षमता रखते हैं। एआई एंकरों का उदय पत्रकारिता सहित विभिन्न उद्योगों में ऑटोमेशन की दिशा में व्यापक रुझान का हिस्सा है। हालांकि कुछ लोग यह तर्क दे सकते हैं कि एआई एंकर एक लागत प्रभावी समाधान है जो समाचारों को जल्दी और सटीक रूप से वितरित कर सकता है, दूसरों को डर है कि वे मानव पत्रकारों की जगह ले लेंगे और समाचारों की विश्वसनीयता को कम कर देंगे।



एआई एंकर का उपयोग करने के प्राथमिक लाभों में से एक गति है। एआई एंकर मानव एंकर की तुलना में बहुत तेजी से समाचार पढ़ सकता है और बिना किसी ब्रेक के 24/7 समाचार प्रस्तुत कर सकता है। इसका अर्थ यह है कि समाचारों को जनता तक बहुत तेजी से पहुँचाया जा सकता है, और ब्रेकिंग न्यूज को तुरंत रिपोर्ट किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त, एआई एंकर एक साथ कई कहानियों पर काम कर सकते हैं, जिससे पत्रकारों की एक बड़ी टीम की आवश्यकता कम हो जाती है।


एआई एंकर का एक अन्य लाभ सटीकता है। मानव एंकर त्रुटियों के लिए प्रवण होते हैं, जैसे नामों का गलत उच्चारण करना या तथ्यों को गलत करना। दूसरी ओर, एआई एंकरों को सटीक सटीकता के साथ समाचार देने के लिए प्रोग्राम किया जा सकता है। उन्हें वास्तविक समय में जानकारी की तथ्य-जांच करने के लिए भी प्रोग्राम किया जा सकता है, जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि समाचार विश्वसनीय और विश्वसनीय है।


हालांकि, कुछ तर्क देते हैं कि एआई एंकर मानव समाचार एंकरों के लिए नौकरियों के नुकसान का कारण बनेंगे। जैसा कि समाचार संगठन लागत कम करना चाहते हैं, वे मानव पत्रकारों के सस्ते विकल्प के रूप में एआई एंकरों की ओर रुख कर सकते हैं। इससे मानवीय पत्रकारों के लिए उपलब्ध नौकरियों की संख्या में उल्लेखनीय कमी आ सकती है और इच्छुक पत्रकारों के लिए उद्योग में प्रवेश करना अधिक कठिन हो सकता है।


एक अन्य चिंता यह है कि एआई एंकर समाचारों की विश्वसनीयता को कम कर सकते हैं। हालांकि वे सटीक और विश्वसनीय हो सकते हैं, उनमें मानवीय स्पर्श की कमी होती है जो मानव एंकर समाचारों में लाते हैं। मानव एंकर भावना, सहानुभूति व्यक्त कर सकते हैं और दर्शकों से इस तरह जुड़ सकते हैं जैसे एआई एंकर नहीं कर सकते। यह मानवीय तत्व दर्शकों के साथ विश्वास बनाने और यह सुनिश्चित करने के लिए महत्वपूर्ण है कि समाचार को विश्वसनीय माना जाए।


इसके अलावा, एआई एंकर भाषा और संस्कृति की बारीकियों को समझने के लिए संघर्ष कर सकते हैं। भाषा जटिल है, और यहां तक ​​कि प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण में नवीनतम प्रगति के साथ, एआई एंकर व्यंग्य, विडंबना या सांस्कृतिक संदर्भों को समझने के लिए संघर्ष कर सकते हैं जो कुछ क्षेत्रों या समुदायों के लिए विशिष्ट हैं। इससे समाचार की गलतफहमी या गलत व्याख्या हो सकती है, जो समाचार की विश्वसनीयता को और कम कर सकती है।


चिंताओं के बावजूद, एआई एंकर पहले से ही कुछ समाचार संगठनों में उपयोग किए जा रहे हैं। चीन की शिन्हुआ समाचार एजेंसी ने 2018 में अपने पहले एआई एंकर का अनावरण किया, और तब से इसका उपयोग विभिन्न समाचारों पर रिपोर्ट करने के लिए किया जाता रहा है। इसी तरह, दक्षिण कोरिया में, 2020 में देश के चुनाव परिणामों पर रिपोर्ट करने के लिए एआई एंकर का उपयोग किया गया था। इन उदाहरणों से पता चलता है कि एआई एंकरों को पहले से ही समाचार रिपोर्टिंग में एकीकृत किया जा रहा है और भविष्य में इसके और अधिक प्रचलित होने की संभावना है।


अंत में, समाचार एंकर की भूमिका अंततः एआई एंकरों द्वारा ली जा सकती है। जबकि वे गति और सटीकता के मामले में लाभ प्रदान करते हैं, वे नौकरी के नुकसान और समाचार की विश्वसनीयता के बारे में भी चिंता जताते हैं। यह संभावना है कि एआई एंकर भविष्य में समाचार रिपोर्टिंग में और अधिक प्रचलित हो जाएंगे, लेकिन यह देखा जाना बाकी है कि क्या वे पूरी तरह से मानव पत्रकारों की जगह लेंगे। अंततः, समाचार रिपोर्टिंग की दक्षता में सुधार करने के लिए एआई तकनीक का उपयोग करने के बीच संतुलन बनाना महत्वपूर्ण है, साथ ही मानवीय तत्व को संरक्षित करना जो दर्शकों के साथ विश्वास बनाने के लिए आवश्यक है।


- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments